स्वास्थ्य मंत्री पै क्रोधित आशा कार्यकर्ता

mahila muddaजिला फैजाबाद। स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन द्वारा आशा कार्यकर्ता का दलाल कहे जाए के कारण पूरे जनपद कै आशा कार्यकर्ता 15 नवम्बर का गांधी पार्क मा धरना प्रदर्शन करिन। अउर कहिन कि जब तक अपने कहे शब्द का वापस न लेइहैं तब तक काम बन्द रहे।
आशा कार्यकर्ता कै कल्याण समिति कै प्रदेश अध्यक्ष सीमा सिंह कहिन कि अब जब तक दलाल शब्द वापस न लेइहै अउर सब आशा का उचित दर्जा न मिले तब तक केहू आशा कार्यकर्ता काम न करिहैं। जे काम करत मिले वका पांच सौ रुपया जुर्माना दियै का परे।
गीता तिवारी, रेखा, मीरा, सुमन, पूनम गौड़ बताइन कि हमरे सब नौ साल से नियमित करै कै मांग करत हई। नियमित मांग करै पै स्वास्थ्य मंत्री दलाल घोषित कै दिहिन। दिन-रात मेहनत करै के बादौ हमरे सबका मानदेय तक नाय मिलत। हमरे सबका प्रोत्साहन दियै के बदले दलाल कहा जात बाय। चाहे रात हुवय या दिन जब फोन आय जाय तुरन्त भागै का पराथै। सही से खाना खाय कै समय नाय मिलत।
प्रान्तीय संरक्षक आनन्द शुक्ला, जिला संरक्षक के अगुवाई मा नगर मजिस्टेट विद्याशंकर का ज्ञापन सौंपिन। अउर कहिन कि जब तक स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन का अपने कहे पै पछतावा न होये अउर सबका सही स्थान न मिले तब तक हमरे सब काम न कै पाउब।