आवास के लाने भटकत लोग

जिला महोबा, ब्लाक पनवाडी कस्बा पनवाडी। एते कि दलित बस्ती वार्ड नम्बर 14 धनकुर अहिरवार कहत हे की मोये दो लडका हे दोनऊ की शादी हो गई़़ हे। एक लड़का दिल्ली में रहत हें ओर एक पनवाड़ी में रहत हे कमरा  के मोये कच्चे खपरैल वाले घर बने हे। जब चुनाव भओ हतो तभे सब लोग वोट ले खे लाने कहत हते की हमें वोट देओ हम कलोनी बनवा देहे पे चुनाव होये के बाद कोनऊ नई सुनत आये। अभे तो हम बुजुर्ग मडई दोऊ लोग कोनऊ तान रहत हे एक घर में ओर ओई में तीन बकरियां भी बंधत हें। जब लड़का आ जात हें तो हमें दुसरन के घर में परत हें या फिर अपने दरवाजे में रहत हे। इके अलावा जगह नई आये। एई तान रामबाबू कहत हे कि मोओ भी एक कमरा हे जो अकेले दोऊ लोग रहत हे। ओई कमरा में खाना ओर बकरिया सब करत हो, पे हम गरीबन खा कालोनी नईं मिलत हे।
प्रधान अखिलेश को आदमी संजय दुबे कहत हे की पनवाड़ी लोहिया ग्राम से हटो हे प्रधानमंत्री योजना के तहत जोन आवास आये हें। ऊके लाने अभे कोनऊ प्रस्ताव नहीं डलवाये गये हे।

रिपोर्टर – सुरेखा राजपुत