आरएसएस नेता इंद्रेश कुमार का बयान- लोग बीफ खाना बंद कर दें तो रुक जाएगी मॉब लिंचिंग

साभार: फेसबुक

अलवर में हुई मॉब लिंचिंग मामले में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ(आरएसएस) के नेता इंद्रेश कुमार ने बड़ा बयान दिया है। इंद्रेश कुमार ने कहा है कि अगर देश के लोग बीफ खाना बंद कर दें तो देश में मॉब लिंचिंग की घटनाएं रुक जाएंगी।

मुस्लिमों के बीच काम करने वाले आरएसएस के संगठन राष्ट्रीय मुस्लिम मंच के संरक्षक इंद्रेश कुमार ने यह भी कहा, ‘देश में मॉब लिंचिंग का स्वागत नहीं किया जा सकता है, लेकिन लोग गाय का मीट खाना बंद कर दें तो इस तरह के अपराधों पर लगाम लग सकती है।

पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, ‘आपके पास भीड़ है, आपके पास घर है, आपको पूछना है, आपको पार्टी में जाना है, या आप कहीं भी नहीं जा पाएंगे। लेकिन जो एक प्रतिष्ठित भक्त भी हैं, आज वह जो कर रहे हैं, वह करने में काफी लंबा सफर तय किया है।

उन्होंने कहा, ईसा (जीसस) धरती पर गोशाला में आए। इसलिए वहां पर गाय को मां बोलते हैं। मक्का मदीना में गाय के काटने को अपराध माना जाता है। उन्होंने यह भी कहा, क्या हम संकल्प नहीं कर सकते कि धरा को पाप से मुक्त करेंगे। उन्होंने कहा कि, यह धरा इससे मुक्त हो जाएगी तो आपकी समस्या का हल हो जाएगा।

गौ तस्कर होने के शक पर गांववालों द्वारा युवक की हत्या करने के मामले पर बात करते हुए केंद्रीय मंत्री अर्जुन राम मेघवाल ने इस घटना को इतिहास से जोड़ते हुए कहा, ‘हम मॉब लिंन्चिंग की निंदा करते हैं लेकिन यह एक भी घटना नहीं है। आपको इसे इतिहास में वापस ढूंढना होगा। ऐसा क्यों होता है? इसे किसको रोकना चाहिए?  1984 में सिखों के साथ जो हुआ वो इस देश के इतिहास की सबसे बड़ी मॉब लिंन्चिग थी

बता दें, अलावड़ा ललावंडी रोप पर कुछ ग्रामीणों ने गाय ले जाते हुए एक युवक को पकड़ लिया। गाय को ले जाते देख गांववालों ने उसे गौ तस्करी के शक के बिनाह पर पीटना शुरू कर दिया और युवक की जान ले ली।