आयकर भरने वालों की संख्या में 25% बढ़ोतरी का कारण नोटबंदी बतलाया गया था, पर क्या ये बात सच है?

फोटो साभार : विकिपीडिया

वित्त वर्ष 2016-17 में 2.82 करोड़ लोगों ने इनकम टैक्स रिटर्न फाइल किया है। कर विभाग ने बताया कि नोटबंदी के बाद रिटर्न फाइल करने वालों की संख्या में 25% का इजाफा हुआ है।
रिजर्व बैंक ने नोटबंदी को नाकाम बताया, हुआ करोड़ो का घाटा!
इस बढ़ोतरी का कारण अब तक नोटबंदी बतलाया जा रहा था, लेकिन अब आयकर विभाग द्वारा जारी किये गए आंकड़ों से पता चला है की ऐसा नहीं है। ये बढ़ोतरी ज़्यादातर 5 लाख से कम कमाने वाले लोग और कंपनियों से हुआ है।
देश के सकल घरेलू उत्पाद (जी डी पी) में भारी वृद्धि
इस रिपोर्ट से अब इस बातपर सवाल खड़े हो जाते हैं, की काले धन पर रोक लगाने में नोटबंदी का अभियान कितना सफल रहा?