आदर्श ग्राम मतलब विकास की छुट्टी देखें चित्रकूट के हन्ना बिनैका गाँव में

चित्रकूट जिला का लगभग आठ हजार आबादी वाला हन्ना बिनैका गांव का नवम्बर 2014 मा बांदा चित्रकूट सांसद भैरो प्रसाद मिश्र आदर्श ग्राम योजना के चलत गोद लीन रहै। पै चार साल होइ जाये के बादौ गांव मा कउनौ विकास नहीं आय। 11 अक्टूबर 2014 से शुरू या योजना मा हर सांसद का 2019 तक तीन गांव का गोद लइके उनकर विकास करै मा रहै। जेहिके खातिर केन्द्र सरकार, सांसद प्रतिनिधि अउर प्रदेश सरकार से संसाधन दे का कहा गा रहा है।
अनंत कुमार का कहब हवै कि हिंया सबसे ज्यादा नाली अउर रास्ता के समस्या हवै। रास्ता मा सब जघा कीचड़ भरा रहत हवै। हिंया पानी के बहुतै ज्यादा समस्या हवै। सांसद गांव का गोद लीने हवै तबहूं कउनौ विकास नहीं कराइन आय।  जउन विकास होय का रहै वा भी रुकगा हवै। साधू शरण बताइस कि आदर्श गांव होय के बादौ हिंया एकौ काम नहीं करावा गा आय कालाबजारी बढ़ी हवै। धनरतिया बताइस कि हैंडपंप नहीं चलत आय वोट लें बस आवत हवै। शिवकुमार त्रिपाठी का कहब हवै कि गोद ले से कउनौ फायदा नहीं आय,काहे से हिंया पिये खातिर तक  पानी नहीं आय। प्रधान प्रतिनिधि गया प्रसाद का कहब हवै कि सांसद विधि से कुछौ नहीं मिला आय। केन्द्र सरकार के योजना मिली हवै, पै सांसद से कुछौ नहीं मिला आय। सीताराम का कहब हवै कि हिंया बिजली, पानी, रास्ता, अउर कालेज कुछौ चीज के सुविधा नहीं कराइगे आय। सांसद आश्वासन बस देत हवै।
सांसद प्रतिनिधि सुशील कुमार का कहब हवै कि बहुतै जोर मा विकास के काम कराए जात हवै। सांसद भैरो प्रसाद मिश्र का कहब हवै कि हुंवा विकास का काम करावा जात हवै।      

रिपोर्टर- मीरा जाटव  और सहोद्रा

Published on Apr 3, 2018