आत्महत्या या इज़्ज़त की खातिर हत्या?

Rape-11-500_1जि़ला लखनऊ, ब्लाॅक काकोरी, कस्बा बगरिया। यहां की पूजा नाम की लड़की घर से 19 नवंबर से गायब थी। 21 नवंबर को उसकी लाश हरदोई जि़ले के एक नाले में पुलिस को मिली। लाश की पहचान हो गई है। पुलिस लोगों से पूछताछ कर रही है। कस्बे के लोग खुलकर कुछ भी नहीं बोल रहे हैं। मगर दबी ज़ुबान से लोग इसे इज़्ज़त के नाम होने वाली हत्या का मामला बता रहे हैं।
पूजा के पिता लालजीत के चार बच्चे हैं। दो लड़का और दो लड़कियां। पूजा तीसरे नंबर की थी। उसकी उम्र लगभग बाईस साल थी। कस्बे के कुछ लोगों ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि पूजा का किसी के साथ प्रेम था। वह शायद गर्भवती भी हो गई थी। इसकी जानकारी घर के लोगों को जब मिली तो उसकी हत्या कर दी। हालांकि उसकी हत्या कैसे हुई, यह कोई नहीं बता रहा है।
मलिहाबाद सीओ जावेद खान ने बताया कि ‘उसके पिता और भाई से पूछताछ की जा रही है। इसमें कुछ बाते सामने आई हैं। उसके परिवार का कहना है कि लड़की ने फांसी लगाई थी उसके बाद उसे बलरामपुुुर अस्पताल ले जा रहे थे तभी रास्ते में उसकी मौत हो गई। पुलिस केस के डर से हरदोई नाले में उसकी लाश को फेंक दिया और 22 नवम्बर को खुद काकोरी थाने में बेटी के लापता होने की रिर्पोट दर्ज कराई। अभी मामले की छानबीन की जा रही है।’
पुलिस ने बताया कि पूजा के भाई और पिता संतोषजनक जवाब नहीं दे पा रहे हैं। वे घटना से जुड़े साक्ष्य छुपाने के दोषी हंै और उनपर कार्यवाही की जाएगी। पुलिस के अनुसार पोस्टमार्टम रिपोर्ट तो आ गई है। मगर उससे पता नहीं चल रहा कि मौत कैसे हुई है? अब उसकी बिसरा जांच होनी है। वह गर्भवती थी या नहीं? इसपर पुलिस ने कुछ भी बोलने से मना कर दिया।