आज भी खौफ़ में जी रहे है ललितपुर के ये परिवार

लगभग दो साल पहले ललितपुर के एक गांव में एक लड़की के साथ अठारह महीनें तक सामूहिक बलात्कार हुआ है। इस बीच लड़की का गर्भपात भी कराया गया। यह बात जब गांव वालों को पता चली तो अपराधी को सजा देनें के बदले इक्कीस बार पंचायत करके लड़की के परिवार को जुर्माना किया।इसके बाद तो गांव वालों ने उस परिवार को रास्तें में चलना मुश्किल कर दिया।तब लड़की के परिवार वालों ने मुकदमा लिखवाया।आरोपियों को जेल भी हुई लेकिन अब भी इनके ऊपर सुलहनामा का दबाव डाला जा रहा हैं और आरोपी अभी भी धमकी दे रहें हैं।घटना पुरानी है और अपराधी जेल में हैं यह बात कहकर पुलिस ने बात नहीं की है। लड़की का कहना है कि आरोपी मेरा मुंह पकड़ कर ले गये थे फिर मुझे मारा और मेरे साथ जबरजस्ती की।चीखी चिल्लाई लेकिन वहां कोई नहीं था फिर मुझे और परिवार वालों को जान से मारने की धमकी दी। इस कारण घर में कुछ नहीं बताया है। एक बार गर्भ रह गया था तो मुझे जबरदस्ती दवा खिला दी थी। लड़की के भाई का कहना है कि पंचायत ने ग्यारह हजार का जुर्माना किया और सबके पैर छूने को कहा था। समाज में सब कुछ रोक दिया था न पानी भरनें देते थे, न निकलने देते थे, न हमसे कोई बात करता था। आरोपी अब जेल में हैं तब भी धमकी देते हैं।
इस खबर की पहली रिपोर्टिंग देखने के लिए यहाँ  क्लिक करे…
रिपोर्टर-सुनीता प्रजापति और श्यामकली

Published on Dec 12, 2017