आग से जली ओरत

मनीता ओर लक्ष्मी प्रसाद
मनीता ओर लक्ष्मी प्रसाद

जिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा कुलपहाड़, मोहल्ला टौरिया। एते तीस साल की मनीता नाम की ओरत 8 अक्टूबर 2013 खा खाना बनाउत समय जल के घायल हो गई हती। जीखे इलाज खा झांसी रिफर कर दओ हतो। 9 अक्टूबर 2013 खा ऊखी मोत हो गई हे।
मनीता के बाप लक्ष्मी प्रसाद ने बताओ कि मनीता के शादी पन्द्रह साल पेहले कुलपहाड़ कस्बे के टौरिया मोहल्ला में भानु प्रसाद के साथे करी हती। शादी के एक साल भर बाद भानु प्रसाद मोई बिटिया के साथे कभऊं दहेज तो कभऊं तनक-तनक सी बातन खा लेके मारपीट करत हतो। जीखे बारे में मोई बिटिया मनीता मोसे केऊ दइयां बताओ हतो, पे मोये लागत हतो कि बिटिया को घर काये खा बिगरे। भानु प्रसाद ने मनीता खा शादी के बाद पांच साल तक मायके नहीं भेजो हतो, अभे दो साल पेहले में मनीता खा मायके लिवा गओ हतो। तभे से भानु प्रसाद ऊखा लिवाउन नई आओ। ऊखो आरोप हे कि एक साल पेहले मनीता खा भानु प्रसाद लिवा गओ ओर फिर ऊखें साथे मारपीट करन लगो। एई से मोई बिटिया ने परेशान होके खुद आगी लगा के जान दे दई हे।
मनीता को आदमी भानु प्रसाद बताउत हे कि मोई ओर मनीता की कभऊं लड़ाई नई भई आय। जभे मनीता के आगी लगी हे तभे में घर में न हतो। मोई जानकारी में मनीत चूल्हा में खाना बनाउत हती। तभई आगी लग गई ओर ऊ जल गई ।