आगी लागे से व्यापार ठप्प, परिवार पे मुसीबत

mahoba ksaba aag vali khabar copyमहोबा शहर, लौड़ी तिगैला मे 15 मई की रात में दयाशंकर के फर्नीचर की दुकान ओर नसीम मन्सूरी के कबाड़ में अचानक से आगी लग गई हती। जीमे दुकान धरो लकड़ी ओर कबाड़ को सामान जल गओ हे। आगी लागे से परिवार मे खाना खायें की मुसिबत आ गई हे।
दयाशंकर बताउत हे की मे छह महीना पेहले ही फर्नीचर की दुकान धरी हती। लकड़ी को बेड कुर्सी बना के आपन परिवार चलाउत हतो, रोज के जेसे हम शाम खे घरे चले गये हते। रात मे मोहल्ला के आदमियन ने फोन करके बताओ की दुकान मे आगी लग गई हे। जभे तक हम ओते गये तभे तक दुकान मे पांच लाख को फर्नीचर को सामान जर के राख हो गओ हतो। रात मे आगी बुझाये वाली मशीन खा बुलओ तभई आगी बुझी हती।
नसीम बताउत हे की मे कबाड़ बेच के आपन परिवार चलाउत हतो। परिवार मे पांच लोग हे। दुकान मे आगी केसे लगी, पता नइयां। मोओ कबाड़ लगभग अस्सी हजार को सामान हो हे। ढाई महीना को बीनो कबाड़ एक घण्टा मे जल के राख हो गओ हे। सुबेरे लेखपाल ओर तहसीलदार जांच करन आये हते, लिख के ले गये हे।
लेखपाल गोकुल बताउत हे की हम मौके मे मुआयना करन गये हते। दोनऊ को चार लाख तक को नुक्सान भओ हो हे। रिपोर्ट बना के तहसील मे दे दई हे। दैविय आपदा के तहत मुआवजा मिलहे।

रिपोर्टर – सुनीता प्रजापति