आखिर क्यों गाँव की सफाई में पूरे जिले के सफाईकर्मी लगे हुए हैं? जानिए चित्रकूट जिले के कसहाई गाँव से

चित्रकूट जिला के कसहाई गांव मा पूर जिला के सफाई कर्मी लाग हवै, काहे से 12-13 अप्रैल का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हिंया आवै का हवै। जबै पिछली दरकी 23 अक्तूबर 2017 का आय रहै तौ बनाड़ी गांव मा छह दिना मा आवास बना दीन गा रहै तौ सफाई का चीज आय, या कउनौ नई बात न होय जबै कउनौ अधिकारी या मंत्री का आवै मा व्यवस्था कराई जात होय। जबै पिछले साल मुख्यमंत्री कुशीनगर का दौरा करिन रहै तौ साबुन अउर शैम्पू बंटवा के मड़इन से ख गा रहै कि अच्छे से नहा-धो के आयेव। मंत्री के आवै मा केत्ती व्यवस्था कीन  जात हवै, गांव का चकाचक बनावै खातिर, पै का मड़ई खुश हवै।
राजेन्द्र सिंह का कहब हवै कि मायावती जउन सफाई कर्मी भर्ती करिस रहै उंई सफाई मा लाग हवै। कउनौ का कुछौ भला होय वाला नहीं आय चाहे जउन सरकार होय, किसानन का भला तौ अउर न होई। सुनील कुमार पांडे का कहब हवै कि नाली मा तौ वहिनतान गन्दगी भरी हवै। हिंया कउनौ हैन्डपम्प के व्यवस्था आय न शौचालय बने आहीं अब तौ देखा जई कि मुख्यमंत्री का व्यवस्था करत हवै।
डीएम विशाख का कहब हवै कि मुख्यमंत्री कसहाई गांव मा निरीक्षण करिहैं अउर वहिके बाद बांदा अउर महोबा के अधिकारिन के साथै बैठक कीन जई।

रिपोर्टर- नाजनी रिजवी

Published on Apr 11, 2018