अस्पताल बीमार कौन करे इलाज?

जि़ला लखनऊ। हमें डाॅक्टरों द्वारा अक्सर यह सलाह दी जाती है कि साफ सफाई का हमेशा ध्यान रखना चाहिए। लेकिन अगर अस्पताल में ही सफाई न हो तो क्या कहेंगे?
ऐसा ही हाल है काकोरी के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का। यहां शौचालय गंदगी का ढेर बन गया है तो अस्पताल के चारों ओर जमा कूड़ा मरीज़ों की सेहत को और ज़्यादा बिगाड़ रहा है। बिस्तर देखकर तो नींद छोड़कर भाग जाए कोई। मरीज़ों का कहना है कि हमें न चाहते हुए भी शौचालय तो जाना ही पड़ता है। यहां तो अच्छा खासा सेहतमंद आदमी भी बीमार हो जाए फिर बीमार का क्या हाल होगा आप ही अंदाज़ा लगाइए। बिस्तर तो हफ्तों बदला ही नहीं जाता। अस्पताल के अगल-बगल हैंडपंप हैं। जिनके चारों ओर गंदगी का अंबार है। अब ऐसा पानी पीकर मरीज़ का हाल क्या होगा?
काकोरी स्वास्थ्य केंद्र के अधीक्षक एम.के.सिंह ने गंदगी होने की बात को गलत ठहराया। उन्होंने कहा मरीज़ ज़्यादा होने के कारण ही गंदगी हो जाती है।

khe Asptal
गंदगी का अंबार