अलग धर्मो के जोड़ों को मिलाने का काम कर रहे हैं अंकित सक्सेना के पिता

सभार : अंकित/फेसबुक

23 साल के अंकित सक्सेना की पिछले दिनों छुरा घोपकर हत्या कर दी गई थी। हत्या का कारण उनका अलग धर्म की लड़की से प्रेम था। पुलिस के अनुसार अंकित इस प्रेम सम्बन्ध में पिछले तीन सालों से था, लेकिन लड़की के परिवार को ये सम्बन्ध पसंद नहीं था।
आज अंकित के पिता यशपाल सक्सेना अपने बेटी की यादों को जिंदा रखना चाहते हैं, जिस कारण से वह युवाओं के लिए कुछ करना चाहते हैं। उनका विचार है कि वह ‘अंकित सक्सेना ट्रस्ट’ की शुरुआत करें, जो देश में अमन बनाने के साथ उन युवाओं की मदद करे, जिन्हें अलग धर्म और जाति में विवाह करना है।
अंकित के माता-पिता बेटे की मौत के सदमे से उबरकर आज अपने पुराने बिजनेंस को फिर से शुरु करना चाह रहे हैं, जिसे वह दो साल पहले करते थे। यशपाल सक्सेना अंकित के यूटूब चैनल ‘आवारा’ को दोबारा से शुरु करने की सोच रहे हैं, जिसके लिए उन्होंने अंकित के दोस्तों से मदद भी लेंगे।
आपको बता दें कि अंकित की हत्या के बाद इस मामले को धार्मिक रंग दिया जा रहा था, लेकिन यशपाल सक्सेना ने उस समय इस मामले को धार्मिक रंग देने की कोशिश को ये कहाकर नाकाम किया कि कृपया इस मामले को धार्मिक रंग न दें।