अम्मा कैंटिन की तर्ज पर शुरू हुई ‘इंदिरा कैंटिन’

साभार: करेंटअफेयर

कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने बेंगलुरू में 16 अगस्त को इंदिरा कैंटीन का उद्धाटन किया
राहुल गांधी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी हमेशा से गरीबों के बारे में सोचती रही है, इसी कड़ी में बेंगलुरु में इंदिरा कैंटीन की शुरुआत की गई है यहां श्रमिक और गरीब लोग महज 10 रुपए में भोजन कर सकेंगे यहां उन्हें हाइजेनिक भोजन मिलेगा 
कर्नाटक को भूख मुक्त बनाने और श्रमिक वर्ग गरीब प्रवासियों को सस्ती दरों पर भोजन मुहैया कराने के लिए सिद्धारमैया सरकार ने इंदिरा कैंटीन की शुरुआत की है बेंगलुरू के बाद इसे पूरे राज्य में शुरू करने की योजना है 
मुख्यमंत्री  सिद्धारमैया ने स्वतंत्रता दिवस पर अपने संबोधन में कहा, “मुझे यह घोषणा करने में खुशी हो रही है कि बेंगलुरू में इंदिरा कैंटीन खुलने जा रहे हैं, जहां हर दिन शहर के श्रमिक और गरीब लोग सस्ते में भोजन करेंगे
प्रारंभिक चरण में, 101 कैंटीन हर दिन 5 रुपये में शाकाहारी टिफिन (नाश्ता) और 10 रुपये में दोपहर का भोजन और इसी दाम में रात का भोजन मुहैया कराएंगी वहीं, अक्टूबर में महात्मा गांधी के 150वें जन्मदिन के अवसर पर शेष बचे 97 वार्डों में भी ऐसी कैंटीन खोले जाएंगे 
उन्होंने कहा कि इस कैंटीन के शहर के गरीब पर पड़े अच्छे और बुरे प्रभाव का अध्ययन कर राज्य के अन्य शहरों और कस्बों में भी इसी तरह के कैंटीन खोलेंगे
उन्होंने कहा, “हमारा लक्ष्य कर्नाटक को भूख मुक्त बनाना है राज्य में हर महीने गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) को अन्न भाग्य योजनाके 7 किलोग्राम चावल मुफ्त प्रदान किया जा रहा है, ताकि वे दो वक्त भोजन प्राप्त कर सके
उन्होंने कहा कि स्तनपान करा रही माताओं और गर्भवती महिलाओं के लिए मातृपूर्ण योजना के तहत रोजाना मिड डे मील मुहैया कराया जा रहा है 2 अक्टूबर से इसका विस्तार राज्य के सभी आंगनवाड़ी केंद्रों तक किया जा रहा है, जिनकी संख्या 12 लाख है