अमेरिकी सेना के हमलों में मारे नागरिक

सीरिया और इराक। सीरिया और इराक में आई.एस. यानी इस्लामिक स्टेट नाम के आतंकी संगठन से लड़ रही अमेरिकी सेना के हवाई हमलों में अब तक चार सौ उनसठ नागरिकों की मौत हो चुकी है। 3 अगस्त को एक स्वतंत्र संस्था ने यह आंकड़े जारी किए। हालांकि अमेरिकी सेना की रिपोर्ट के अनुसार केवल छह नागरिक मारे गए हैं। जबकि इस्लामिक स्टेट आतंकी संगठन के पंद्रह हजार आतंकी मारे गए हैं। रिपोर्ट की माने तो अमेरिकी सेना आधारित सैनिकों के समूह हवाई हमलों से पहले आसपास के इलाकों में चेतावनी जारी नहीं करते हैं।

दरअसल अमेरिकी सेना ने कई देशों के साथ मिलकर पिछले साल इस आतंकवादी समूह से यह लड़ाई शुरू की थी। इसके लिए ईराक और सीरिया में सेना तैनात की गई थी। अमेरिका ने 8 अगस्त को ईराक और तेईस अगस्त को सीरिया में आतंकवादी संगठन के खिलाफ जंग शुरू की थी। अब तक अमेरिका आधारित सेना के समूह ने अट्ठावन सौ हवाई हमले किए हैं।

अमेरिका के साथ ब्रिटेन, बेल्जियम, फ्रांस, नीदरलैंड, आॅस्ट्रेलिया, डेनमार्क और कनाडा की सेनाएं भी लड़ रहीं हैं। ब्रिटेन आधारित सीरिया की एक मानवाधिकार संगठन की रिपोर्ट के अनुसार तो केवल सीरिया में एक सौ तिहत्तर नागरिक इन हमलों में मारे गए हैं। हमलों में 4 मई को एक ही गांव के चैसठ लोग मारे गए थे।