अभे नईं मिले शौचालय

19-08-15 Mahoba - Jaitpur - Belatal Shauchalay webजिला महोबा, ब्लाक जैतपुर, कस्बा बेलाताल। सरकार स्वाच्छ भारत बनायें के लाने कोशिश तो बोहतई करे हे। पे नकाम समझ में आउत हे। काय से आज भी बेलाताल कस्बा के आदमी बाहर खुले मैदान में ट्टटी होंय जायें खा मजबूर हे। एते के आदमी शौचालय बनवायें की मांग करत हे।
कस्बा की सियारानी कहत हे कि सरकार हम गरीबन के लाने फ्री शौचालय जेसे सुविधा देत हे। फिर भी ब्लाक के कर्मचारी हमसे नौ सौ रुपइया एक शौचालय को मांगत हे। कस्तूरी, कालीचरन ओर भगवान दास कहत हे कि हम दलित आदमी हे। बनी मजदूरी करके आपन खाना खर्चा चलाउत हे ओर कच्चो मकान में रहत हे।  हम लोग कस्बा से एक डेढ़ किलो मीटर दूर जंगल में जाने परत हे। अगर बिमार हो जात हे तो रात बिरात के लाने कहूं जघा नइयां। हमने सुनो हतो कि शौचालय आये हे तो हमें भी मिल जेहे।
जैतपुर ब्लाक के ए.डी.ओ. पंचायत मंसूरी अली बताउत हे कि बेलाताल कस्बा मे दो सौ साठ शौचालय आय हते। जोन आदमियन खा फ्री में दये हे। कोनऊ से रुपइया नई लये जात हे।