अब खेल के मैदान में आयेगी गुलाबी गेंद

Pink_ballऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैण्ड के बीच रात में खेले हुये टेस्ट मैच की सफ़लता देखते हुए, भारत में भी अब रात में टेस्ट मैच खेलने की तैयारी शुरू हो गयी है। अब तक टेस्ट मैच में लाल रंग की गेंद इस्तेमाल होती थी, पर अब रात के समय टेस्ट मैच खेलने के लिए, गुलाबी रंग की गेंद का इस्तेमाल होगा।

सौरव गांगुली की पहल से, गुलाबी गेंद की शुरुआत बंगाल के ईडन गार्डन मैदान में, मोहन बगान और भवानीपुर क्लब के मैच हाल ही में हुई।

टेस्ट मैच में नवीनता लाने के उद्देश्य से गुलाबी गेंद का उपयोग शुरू किया गया है। ज़्यादातर टेस्ट मैच सुबह और दोपहर में खेले जाते थे, लाल गेंद के साथ, पर अब गुलाबी गेंद के इस्तेमाल से खिलाड़ी रात में भी खेल पायेंगे।

ईडन गार्डन मैच में खिलाड़ियों का मानना था कि गुलाबी गेंद से खेल पर अच्छा फ़र्क पड़ा है।उन्होंने कहा कि शाम के समय जब सूरज की रौशनी कम हो जाती है, और मैदान में लगाई हुई रौशनी का पूरा असर नहीं होता है, तब गुलाबी गेंद काफ़ी उपयोगी साबित होती है।

ऑस्ट्रेलिया और न्यूज़ीलैण्ड के मैच की सफलता देख, पिछले कुछ महीनों से विभिन्न क्रिकेट समितियों ने टेस्ट मैच को बढ़ावा देने का प्रयास किया है। भारत के बी.सी.सी.अई ने भी 6 और टेस्ट मैच मैदानों को खेलने की घोषना की है।