अब केसे पालहों परिवार

तालाब में मरी परी मछली
तालाब में मरी परी मछली

जिला महोबा, ब्लाक कबरई, गांव खन्ना। एते के रामरतन सोनू तालाब में मछली पालन को काम करत हे। तालाब में गन्दगी होय खे कारन ऊखी पूरी मछली मर गई हें। जीखी जांच करे खा डी.एम., एस.डी.एम. ओर मत्स्य विभाग के अधिकारी गये हते।
रामरतन ने बताओ कि में ई तालाब में दस साल से मछली पालन को काम करके आपन परिवार पालत हों। ईखे अलावा में ओर कछू काम नई कर पाउत हों। गांव की नाली ओर शौचालय को गन्दो पानी तालाब में जाये के कारन गैस बन गई हे। मोई लगभग पन्द्रह कुन्टल मछली मर गई हें। जीखी सूचना मेंने 6 अक्टूबर 2014 खा खन्ना थाने में दई। मोये लगो हतो कि कहूं कोनऊ ने कछू डार न दओ होय, पे कछू पता नई चलो आय। महोबा डी.एम., एस.डी.एम., तहसीलदार ओर मत्स्य विभाग के अधिकारी आये हते। मछली निकरा के एक गड्ढा में दबा दई हें। तालाब में चुना, नमक ओर लाल दवा डारी हे।
खन्ना थाना के एस.ओ. नन्दलाल भारती ने बताओ कि धारा 327 के तहत अज्ञात में मुकदमा लिख गओ हे। हमने ओते को अतिक्रमण हटवा दओ हे। एस.डी.एम. राकेश कुमार गुप्ता ने बताओ कि तालाब मे ज्यादा गन्दगी होंय के कारन मछली मरी हें। हमने तालाब की मछली निकरा के सफाई करा लाल दवा डरा दई हे। जीसे गांव मे कोनऊ तरह की बीमारी न फेले। ऊखे मुआवजा न मिलहे।