अपहरण भै मेहरारु कै मिली लाश

सुनीता के पिता नंदलाल सोनी
सुनीता के पिता नंदलाल सोनी

 जिला फैजाबाद ब्लाक तारून गांव नसरतपुर। 14 नवम्बर 2013 से अपहरण भै पैंतिस साल के सुनीता कै लाश 3 सितम्बर 2014 का विजय नगर पुलिस चैकी लखनऊ रेलवे
स्टेषन के किनारे मिली। सुनीता के भाई संदीप कै आरोप बाय कि आरोपियन के खिलाफ कार्यवाही भै हुवत तौ हमरे बाहिन कै जान बच जात। पिता नंदलाल सोनी, भाई संदीप सोनी कै कहब बाय कि गांव कै गुलाबा देवी अउर संजय सुनीता का बहलाय फुसलाय के लै गइन। 11 जून का जब आरोपी संजय घर आय तौ अम्मा सूरसती हमरे बहन के बारे मा पूछिन तौ कहिस कि लखनऊ मा तोहरे बिटिया का देखे रहेन। यहि बात कै षिकायत थाना पै कीन गै लकिन कार्यवाही नाय भै। 25 जुलाई का न्यायालय के आदेष पै 27 अगस्त 2014 का आरोपी संजय व गुलाबा के खिलाफ मुकदमा दर्ज भै। जब आरोपी का जानकारी भै कि हमरे खिलाफ धारा लाग बाय तौ हमरे बहिन कै हत्या कइके लाश रेलवे लाइन के किनारे फेंक दिहिन। दुइनौ आंख निकाल लीन रही। लावारिस हालत मा अंतिम संस्कार कै दिहिन। अमर उजाला मा फोटो विज्ञप्ति से लखनऊ जाए के बहन कै पहचान करेन। गुलाबा देवी बताइन कि संजय के उपर झूठा इल्जाम लगावत रहिन कि इनहीं अपहरण करे अहैं। यही से हम थाना जाय के कहेन कि ई गलत बात आय तौ हमरेव नाम मुकदमा दर्ज कराय दिहिन। थाना कै दीवान इन्द्रजीत बताइन कि 27 अगस्त का संजय व गुलाबा के बिरूद्ध 504, 506, 365 गाली गलौज, धमकी वादिनी के पुत्री का गुप्त स्थान पै छिपावै कै धारा लाग बाय।