अधेरे में डूबो हे गांव

फूको ट्रांसफारमर
फूको ट्रांसफारमर

जिला महोबा, ब्लाक चरखारी गांव कनेरा। ई गांव में बिजली खे सुविधा के लाने सात ट्रान्सफारमर धरे हें। पे लगभग दो महीना से चार ट्रान्सफारमर फूंके परे हे। जीसे आधो गांव अधियारे में रहत हे।
दलित बस्ती वार्ड नम्बर छह के राकेश कुमार, देशरानी, बलवान, ओर लगभग पन्द्रह आदमियन ने बताओ कि हमाए ई मोहल्ला को ट्रान्सफारमर डेढ़ महीना से फंूको परो हे। जीसे हमंे अंधियारे में रहने परत हे। गांव में 2010 में बिजली के सुविधा के लाने बिजली विभाग ने ट्रान्सफारमर धराये हते। जोन हमाए मोहल्ला को ट्रान्सफारमर डेढ़ महीना से फंूको परो हे। एई से हम लोगन ने 7 जून 2013 के चरखारी बिजली विभाग में आपन समस्या बताउन गये हते। ऊ लोगन ने “एक दो दिन” में ठीक हो जेहें, जा कह के टार दओ हे। हमने दुबारा से 20 जून 2013 खे बिजली विभाग में दरखास दई हे।
चरखारी बिजली विभाग के एस.एस.ओ. करन सिंह राजपूत ने बताओ कि प्रस्ताव बन के तैयार हो गओ हे। जभे महोबा के बिजली विभाग से प्रस्ताव पास हो जेहे तो ओते ट्रान्सफारमर धरा दओ जेहे।