अगर मैं प्रधानमंत्री होता या होती…

बच्चों से अक्सर यह सवाल पूछा जाता है कि तुम बड़े होकर क्या बनोगे? जवाब अलग-अलग मिलते हैं। मगर हमने अलग-अलग समुदाय और वर्ग से आने वाले बच्चों से एक सवाल पूछा कि अगर तुम प्रधानमंत्री बन जाओ तो क्या करोगे? जवाब बेहद रोचक मगर गंभीर थे। ज़्यादातर बच्चों ने गरीबी दूर करने और हर मामले में आज़ादी पर पाबंदी दूर करने की बात कही।

बच्चों के कुछ जवाब जिन्हें बड़ों को न केवल जानना चाहिए बल्कि उन पर विचार भी करना चाहिए – किड्स स्पीक आउट नाम की इस वीडियो सीरीज़ में आॅन बीइंग पी.एम. यानी प्रधानमंत्री होने के नाते नाम की इस वीडियो रिकार्डिंग की शुरुआत में एक बच्चा दिखाई देता है, जो कहता है कि अगर मैं प्रधानमंत्री होता तो सबसे पहले सब गरीबों को खाना देता। उनको अमीरों के लेवल पर लाता। दूसरा बच्चा कहता है मैं सबको मिलजुल कर रहने के लिए कहता। एक बच्ची कहती है कि मैं सभी भिखारियों के लिए बसेरे बनाउंगी। एक बच्चा कहता है कि सबके घर में शौचालय बनाता। एक बच्चा कहता है कि बेरोज़गारी खत्म करता, सबको रोज़गार दिलाता। उसके बाद का बच्चा प्रदूषण खत्म करने की बात करता है। एक जवाब जो दिल को छूने वाला था वह यह कि एक बच्चा कहता है कि हमें अपनी मजऱ्ी का साथी चुनने का अधिकार है। कुल मिलाकर यह सभी बच्चे उन मुद्दों पर बात करते हैं जो वाकई गंभीर हैं। इस वीडियो को देखकर दिमाग में एक बात जो तुरंत आती है वह यह कि बच्चे बड़ों से न कम समझते हैं और न कम सोचते हैं। हां उनका अंदाज़ ज़रूर अलग लगता है।

साभार – यूथ की आवाज़ की किड्स स्पीक आउट श्रृखंला

यह खबर आई है यूथ की आवाज़ से, जो खबर लहरिया के नए पार्टनर हैं ।  उनकी अंग्रेजी खबर यहां पढ़िए ।