अखिलेश और मुलायम फिर आये एक साथ

12 अक्टूबर को लखनऊ में समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह यादव के साथ पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव डॉ. राम मनोहर लोहिया के पुण्य तिथि समारोह में एक साथ शामिल हुए। यह तकरीबन एक साल बाद था जब पिता और पुत्र दोनों ही एक जगह साथ उपस्थित थे।

फोटो साभार-अखिलेश यादव, फेसबुक पेज

देश की राजनीति को समाजवाद से परिचित कराने वाले डॉ. राम मनोहर लोहिया की 50वीं पुण्यतिथि पर लखनऊ में डॉ. राम मनोहर लोहिया पार्क में मुलायम सिंह यादव के साथ अखिलेश यादव ने उनकी प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की।

लोहिया पार्क में आयोजित श्रद्धांजलि सभा में मुलायम सिंह यादव पहले पहुंचे। इसके बाद पहुंचे सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश ने सबसे पहले पिता मुलायम का आशीर्वाद लिया। अखिलेश ने पिता मुलायम के पैर छूए। मुलायम के लिए अखिलेश ने कहा कि नेताजी ने लोहिया पार्क में आकर हम सबको आशीर्वाद दिया।

इस दौरान पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने केंद्र सरकार पर हमला बोला। उन्होंने कहा कि नोटबंदी से कोई भ्रष्टाचार खत्म नहीं हुआ। बिना किसी तैयारी के केंद्र सरकार ने जीएसटी लागू कर दिया।

उन्होंने कहा कि देश तभी तरक्की करेगा, जब वो समाजवादी विचारधारा पर चलेगा. समय-समय पर चीज़ें बदली होंगी, लेकिन समाजवादी विचारधारा नहीं बदली। आज महंगाई, ग़रीबी बहुत ज़्यादा बढ़ गई है। जाति और धर्म के पीछे पूरी सत्ता की लड़ाई लड़ रहे हैं।