अखाड़ा बंद होने से बचाने के लिए महिला पहलवानों ने लिखा ‘सुल्तान’ सलमान को पत्र

 

महिला पहलवान जिन्होंने सलमान से अखाड़ा बचाने की गुहार लगायी है।
महिला पहलवान जिन्होंने सलमान से अखाड़ा बचाने की गुहार लगायी है।

पंजाब, मोगा के एक गांव में बाबा फरीद अखाड़ा एकमात्र महिला अखाड़ा है जो अब बंद होने की कगार पर है। यहां 80 महिला पहलवान हैं जिनमें से 30 राष्ट्रीय स्वर्ण पदक जीत चुकी हैं और कुछ राजकीय स्तर पर पुरस्कृत भी हो चुकी हैं। इनमें से कई तो सलमान खान की फिल्म ‘सुल्तान’ में और आमिर खान की दंगल में भी अभिनय कर चुकी हैं।
इन महिला पहलवानों ने ‘सुल्तान’ यानि सलमान खान को एक पत्र लिखा है, जिसमें लिखा है कि “यह अखाड़ा आर्थिक अभाव के चलते बंद होने वाला है। गांव के पुराने पहलवानों और प्रवासी भारतीयों की मदद से अब तक यह अखाड़ा चल रहा था लेकिन अब कोच हरभजन सिंह भज्जी को भी वापस बुला लिया है। तैयारी के लिए जो सुविधाएं और संसाधन मिले हैं, उन्हें भी वापिस मंगवाया जा रहा है। सभी तरफ से निराश होकर हम आपसे प्रार्थना करते हैं कि अखाड़े को बंद होने से बचा लिजिये।”
अन्य मीडिया के अनुसार अखाड़े के अध्यक्ष डा. गुरप्रताप ने बताया कि वे कई बार अखाड़ा बंद होने से बचाने के लिए सरकार को पत्र लिख चुके हैं। कई बार तो अधिकारियों से बातचीत भी की। यही नहीं, इस समस्या के बारे में उपमुख्यमंत्री सुखबीर बादल से भी बातचीत कर चुके हैं। लेकिन समस्या वैसी की वैसी है।
हार कर, हर तरफ से निराश होकर उन्होंने और पहलवानों ने सलमान खान को पत्र लिखा है। डॉ गुरप्रताप ने बताया कि इस अखाड़े में बहुत सी लड़कियां भविष्य बनाने के लिए उम्मीद लेकर पहलवानी सीखने आती हैं। उन्होंने बताया कि पहलवानों ने सलमान खान के संस्था ‘बीइंग ह्यूमन’ के फेसबुक खाते पर भी मेसेज छोड़ा है। आशा है “सलमान हमारी मदद करेंगे।”